संघर्ष पर उद्धरण

उद्धरण1

quote

”दुनिया में कीं अैड़ी अजोगती बात कोनीं जकौ मिनख पार नीं पटक सकै। विग्यांन रा करार रै आपै तौ मिनख सूरज नै आभा सूं तोड़ जमीं में बूर सकै अर मन करै जित्ता आभा में नवा सूरज उछाल सकै।”

विजयदान देथा