कोटा संभाग रा कवि

कोटा संभाग ( कोटा, बूंदी, बांरा, झालावाड़) रै साहित्यकारां रो टाळवो साहित्य-संग्रै।

अम्बिका दत्त

ठावा कवि-गद्यकार। 'नुगरे रा पद' संग्रै सारु खास पिछाण। केंद्रीय साहित्य अकादमी रो सिरै पुरस्कार।

अतुल कनक

राजस्थानी-हिंदी रा चावा कवि-गद्यकार।

देवकी दर्पण ‘रसराज’

राजस्थानी गद्य अर पद्य में सांगोपांग काम। गीत, नव गीत में लेखणी सवाई।

दुर्गादान सिंह गौड़

ठावा गीतकार। 'हाड़ौती' अचंळ' सूं संबध।

गिरधारी लाल मालव

हाड़ौती रा ख्यात गीतकार।

गौरीशंकर 'कमलेश'

सिरैनांव कवि-गीतकार।

हरिचरण अहरवाल 'निर्दोष'

आखर-आखर में चम्बल रै पाणी री सीतळता। 'बेटी' संग्रै रै मारफ़त संवेदनावां रा तार छेड़ै। 'वै बी कांईं दिन छा' अर 'बावळी' सरावणजोग पोथ्यां।

जयसिंह आशावत

हाड़ौती अंचल रा चावा लिखारा। राजस्थानी गीत अर दोहां में लगोलग काम। अनुवाद में ई सांवठी भागीदारी ।

जितेन्द्र निर्मोही

हाड़ौती रा हरावळ रचनाकार। गजल कोरणी रा कारीगर। मीठै कंठां रा धणी। राजस्थान साहित्य अकादमी सूं पुरस्कृत। कोटा विश्वविद्यालय में साहित्य माथै शोध।

कैलाश मंडेला

मंच माथै कविता अर गीत नै अेक ठावी पिछाण दिराई है। अनुवाद में ई सांतरो काम। साहित्य अकादेमी सूं ई आदरीज्योड़ा।

कमला कमलेश

हाड़ौती री सुपरिचित लेखिका। लोकगीतां माथै विसेस काम।

किशन लाल वर्मा

इण सदी रा चावा कवि-लेखक।

कृष्णा कुमारी ‘कमसिन’

सुपरिचित लेखिका। हाड़ौती अंचळ सूं संबंध।

मुकुट मणिराज

हाड़ौती रा चावा गीतकार।

नंदू राजस्थानी

राजस्थानी सिणगार रस री रचनावां रो लेखन। दोहां मांय कलम नै जस। राजस्थानी कवितावां रो अेक संग्रह ई।

ओम नागर

चावा कवि-गद्यकार। 'जद बी मांडबा बैठूं छूं कविता’ कविता संग्रै माथे केंद्रीय साहित्य अकादमी रो युवा पुरस्कार।

प्रेमजी ‘प्रेम’

हाड़ौती रा सिरैनांव कवि-गीतकार।

Do you want to discard your changes?

You modified some filters. What would you like to do with these changes?